Category Archives: Yakshini Sadhana

Surasundari Yakshini Mantra Sadhana(सुरसुन्दरी यक्षिणी मंत्र साधना )

सुरसुन्दरी यक्षिणी मंत्र साधना

जितेन्द्रिय होकर विधिवत शुभकाल में यह साधना आरम्भ करनी चाहिये। सदैव ध्यान मे लीन एवं उनके दर्शन की अभिलाषा में उत्सुक होकर निर्जन एवं सर्वथा सुनसान स्थान पर धैर्यपूर्वक यह साधना आरम्भ करें। देवी के प्रति साधक को माता,बहिन या पत्नी की भावना रखनी चाहिये। इस प्रकार साधना करने से निःसंदेह देवी का साक्षात्कार प्राप्त होता है एवं मनुष्य को अभीष्ट फल की प्राप्ति होती है। यक्ष-यक्षिणी,पिशाचिनी एवं अन्य क्षुद्र साधनायें बिना किसी अनुभवी गुरू के अभाव मे करने का प्रयास कदापि न करें।

Please perform yakshini sadhana in touch of experienced person.If you make any mistake in doing sadhana then you have to pay for it.

For Mantra diksha and any sadhana guidance by Gurudev Shri Raj Verma ji call on +91-9897507933,+91-7500292413 and mail to mahakalshakti@gmail.com

Download Surasundari Yakshini Mantra Sadhana

Advertisements